Aashishwer Mahadev Darshan

Aasheshwar Mahadev

THis place is situated in nandgao. When Lord Shiv asked Shri Krishna bhagwan to be witness for his all the leelas of Nandgao then he came here from kailash parvat and resides here. That place is known as Aasheshwar Mahadev

यहीँ वो सरोवर है जो पावन सरोवर के नाम से जाना जाता है। यहाँ बाबा ने ठाकुर जी को सर्वप्रथम स्नान करा के नंदोत्सव मनाया और 2 लाख गायों का साधू ब्राह्मणों को दान किया। यहीं पर ठाकुर जी के बालस्वरूप के दर्शन की लालसा लेकर कैलाश पर्वत वासी शिव आये। आज वो स्थान आशेश्वर महादेव के नाम से जाना जाता है।